Home / Tag Archives: Subhash Dhuliya

Tag Archives: Subhash Dhuliya

समाचार लेखन : कौन, क्या, कब, कहां, क्यों और कैसे?

news_writing

सुभाष धूलिया। परंपरागत रूप से बताया जाता है कि समाचार उस समय ही पूर्ण कहा जा सकता है जब वह कौन, क्या, कब, कहां, क्यों और कैसे सभी प्रश्नों या इनके उत्तर को लेकर लोगों की जिज्ञासा को संतुष्ट करता हो। हिंदी में इन्हें छह ककार ( Five W and ...

Read More »

Commercialization of Media and Erosion of Public Sphere

camera-man

Subhash Dhuliya | In 1977, Jerry Mander, a former advertising executive in San Francisco, published Four Arguments For The Elimination Of Television. In the book, Mander reveals how the television networks and advertisers use this pervasive video medium for sales. Four Arguments talks about a lot more than just advertising. ...

Read More »

पत्रकारीय लेखन के प्रकार : तथ्य से विचार तक

worth-writing

सुभाष धूलिया। तथ्य, विश्लेषण और विचार समाचार लेखन का सबसे पहला सिद्धांत और आदर्श यह है कि तथ्यों से कोई छेड़छाड़ न की जाए। एक पत्रकार का दृष्टिïकोण तथ्यों से निर्धारित हो। तथ्यात्मकता, सत्यात्मकता और वस्तुपरकता में अंतर है। तथ्य अगर पूरी सच्चाई उजागर नहीं करते तो वे सत्यनिष्ठï तथ्य ...

Read More »